🪔स्कंद माता जी की आरती (हिंदी) & (English Lyrics) PDF

Print Friendly, PDF & Email
5/5 - (1 vote)

स्कंद माता जी की आरती (हिंदी) –

जय तेरी हो स्कंद माता।
पांचवां नाम तुम्हारा आता॥

सबके मन की जानन हारी।
जग जननी सबकी महतारी॥

तेरी जोत जलाता रहूं मैं।
हरदम तुझे ध्याता रहूं मैं॥

कई नामों से तुझे पुकारा।
मुझे एक है तेरा सहारा॥

कहीं पहाड़ों पर है डेरा।
कई शहरों में तेरा बसेरा॥

हर मंदिर में तेरे नजारे।
गुण गाएं तेरे भक्त प्यारे॥

भक्ति अपनी मुझे दिला दो।
शक्ति मेरी बिगड़ी बना दो॥

इंद्र आदि देवता मिल सारे।
करें पुकार तुम्हारे द्वारे॥

दुष्ट दैत्य जब चढ़ कर आए।
तू ही खंडा हाथ उठाए॥

दासों को सदा बचाने आयी।
भक्त की आस पुजाने आयी॥

🪔स्कंद माता जी की आरती (हिंदी) & (English Lyrics) PDF

Skanda Mata Ji Ki Aarti, Hindi (English Lyrics) –

Jai teri ho Skand Mata.
Paanchva naam tumhara aata॥

Sabke man ki jaanan haari।
Jag Janani sabki mahataari॥

Teri jyot jalata rahoon main।
Hardam tujhe dhyaata rahoon main॥

Kai namon se tujhe pukara।
Mujhe ek hai tera sahara॥

Kahin pahaadon par hai dera।
Kai shehron mein tera basera॥

Har mandir mein tere nazaare।
Gun gaaye tere bhakt pyaare॥

Bhakti apni mujhe dila do।
Shakti meri bigadi bana do॥

Indra aadi devata mil saare।
Karen pukaar tumhare dwaare॥

Dusht daitya jab chadh kar aaye।
Tu hi khanda haath uthaaye॥

Daason ko sada bachaane aayi।
Bhakt ki aas pujane aayi॥

हिंदी आरती संग्रह देखे – लिंक

चालीसा संग्रह देखे – लिक

स्त्रोत संग्रह देखे – लिंक

Leave a Comment